अखिल भारतीय मौसम बुलेटिन



नई दिल्ली,
इंडिया इनसाइड न्यूज़।

■ भारत मौसम विज्ञान विभाग के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान के अनुसार:

• उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी हिस्सों, मध्य भारत और समीपवर्ती पूर्वी भारत के अंदरुनी हिस्सों के ऊपर शुष्क पश्चिमी हवा के छाये रहने के कारण, वर्तमान गर्म हवा की स्थिति के मुख्य रूप से अगले दो दिनां तक जारी रहने का अनुमान है।

• मौसम विभाग के उप-प्रखंड वार, गर्म हवा के साथ छिटपुट अत्यंत गर्म हवा की स्थिति के 26-27 मई के दौरान विदर्भ के कई स्थानों पर तथा 26 मई को हरियाणा, चंडीगढ़ एवं दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश एवं पूर्व मध्य प्रदेश के कुछ स्थानों पर गर्म हवा की स्थिति के बने रहने का अनुमान है। 27 मई को हरियाणा, चंडीगढ़ एवं दिल्ली, पश्चिम उत्तर प्रदेश, पूर्व राजस्थान तथा मध्य प्रदेश के कुछ स्थानों पर एवं पंजाब तथा पूर्वी उत्तर प्रदेश के छिटपुट स्थानों पर गर्म हवा की स्थिति के बने रहने का अनुमान है। अगले 2-3 दिनो के दौरान बिहार, झारखंड, ओडिशा, मराठवाड़ा एवं मध्य महाराष्ट्र में भी छिटपुट स्थानों पर गर्म हवा की स्थिति के बने रहने का अनुमान है।

• एक पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव तथा निचले स्तरों पर पूर्व-पश्चिम कम दबाव के क्षेत्र के निर्माण और 28-29 मई से वर्षा/आंधी के संभावित अनुमान से 28 मई के बाद उत्तर भारत के मैदानी क्षेत्रों में अधिकतम तापमान में कमी तथा 29 मई से गर्म हवा की स्थिति में उल्लेखनीय कमी आने की उम्मीद है। भारत के मध्य भागों एवं समीपवर्ती पूर्वी भागों के ऊपर अनुकूल हवा की स्थिति के तहत इन क्षेत्रों से भी 29 मई से गर्म हवा की स्थिति में कमी आने का अनुमान है।

• निम्न क्षोभमंडलीय स्तरों पर बंगाल की खाड़ी से पूर्वोत्तर भारत में तेज दक्षिणी हवाओं के कारण - अगले पांच दिनों के दौरान असम एवं मेघालय के छिटपुट स्थानों पर तथा 26 मई को अरुणाचल प्रदेश भारी से बहुत भारी तथा अत्यधिक भारी वर्षा होने का अनुमान है। अगले पांच दिनों के दौरान नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम एवं त्रिपुरा में छिटपुट स्थानों पर तथा अगले 48 घंटों के दौरान पूर्वी भारत के समीपवर्ती स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने का अनुमान है। 26-30 मई, 2020 के दौरान दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत के कुछ भागों में छिटपुट स्थानों पर भारी वर्षा होने का अनुमान है।

• मानसून की उत्तरी सीमा (एनएलएम) लगातार अक्षांश 5 डिग्री उत्तर/देशांतर 85 डिग्री पूर्व, अक्षांश 8 डिग्री उत्तर/देशांतर 90 डिग्री पूर्व, कार निकोबार, अक्षांश 11 डिग्री उत्तर/देशांतर 95 डिग्री पूर्व के जरिये गुजर रही है। अगले 24 घंटों के दौरान दक्षिण पश्चिम मानसून के दक्षिण बंगाल की खाड़ी के कुछ और हिस्सों, अंडमान सागर एवं समीपवर्ती मध्य बंगाल की खाड़ी में और आगे बढ़ने के लिए स्थिति अनुकूल हो रही है।

ताजा समाचार

  India Inside News


National Report



Image Gallery
Budget Advertisementt