तब्‍लीगी होने की आशंका मे यंगुन जा रहे 22 यात्री रोके गए



---अभिजीत पाण्डेय,
पटना-बिहार, इंडिया इनसाइड न्यूज़।

बिहार में एक बार फिर तब्‍लीगी जमात चर्चा में आ गया है। तब्‍लीगी मरकज से कनेक्‍शन होने की आशंका के बाद बिहार के गया अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट पर विदेश जाने वाले 22 यात्रियों को रोक दिया गया है। इसे लेकर प्रशासनिक खेमे में हड़कंप मचा हुआ है। वह पूरी तरह अलर्ट मोड में है। कुल 104 यात्रियों को विदेशी विमान से स्‍वदेश यंगून लौटना था। लेकिन 22 लोगों के रोके जाने के बाद 82 लोगों को ही जाने की अनुमति मिली। इसके बाद विमान बाकी लोगों को लेकर रवाना हुआ। वहीं रोके गये लोगों के बारे में डॉक्‍यूमेंट्स के साथ उनकी हिस्‍ट्री खंगाली जा रही है।

दरअसल, गया अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से म्यांमार नेशनल एयरलाइंस के विमान से यंगून के लिए जा रहे 22 लोगों को बुधवार को रोक लिया गया है। यंगून से आए इस विमान से 104 यात्री स्वदेश रवाना होने वाले थे। रवानगी के पहले सभी यात्रियों के सामान आदि की जांच के बाद उसे विमान में रख दिया गया था, लेकिन इसी बीच 22 यात्रियों के पास इमीग्रेशन द्वारा यात्रा के पर्याप्त दस्तावेज नहीं मिलने के कारण उन्हें एयरपोर्ट पर रोक दिया गया। करीब तीन घंटे की देरी से 82 यात्रियों को लेकर विमान यंगून के लिए रवाना हो गया।

सूत्रों की मानें तो ये सभी 22 यात्री कोलकाता से सड़क मार्ग से गया एयरपोर्ट पर विमान पकड़ने के लिए आए थे। रोके गए यात्रियों के तब्लीगी मरकज से जुड़े होने की संभावना व्यक्त की जा रही है। हालांकि अभी इसकी अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं की गई है।

बता दें कि म्यांमार नेशनल एयरलाइंस का विमान लॉकडाउन में यंगून में फंसे 45 प्रवासियों को लेकर गया एयरपोर्ट पर आया था। इसमें पांच झारखंड के और शेष 40 बिहार के विभिन्न जिलों के प्रवासी थे। उन्हें बोधगया के गेस्ट हाउस व बौद्ध मोनॉस्ट्री में 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन किया गया है।

ताजा समाचार

  India Inside News


National Report



Image Gallery
Budget Advertisementt