बिहार : विधानसभा के लिये भाग्य आजमा रहे 3738 प्रत्याशियों में से 37% करोड़पति



--अभिजीत पाण्डेय (ब्यूरो),
पटना-बिहार, इंडिया इनसाइड न्यूज़।

बिहार भले ही पिछड़े और गरीब राज्य की श्रेणी में आता हो लेकिन यहां विधानसभा चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों की बड़ी संख्या करोड़पतियों की है। कुल 3738 उम्मीदवारों में से 1231 उम्मीदवार करोड़पति हैं, इनमें सबसे अमीर उम्मीदवार वारिसनगर से रालोसपा के प्रत्याशी बिनोद कुमार सिंह हैं। उनकी कुल संपत्ति 85.89 करोड़ रुपए से अधिक है।

सबसे अमीर उम्मीदवारों में दूसरे नंबर पर अनंत कुमार सिंह हैं, उनकी कुल संपत्ति 68.56 करोड़ से अधिक है।

तीसरे नंबर पर बरबीघा से कांग्रेस के उम्मीदवार गजानंद शाही हैं, उनकी कुल संपत्ति 61.233 करोड़ से अधिक है।

2015 के विधानसभा चुनाव में प्रत्याशियों की बात करें तो सबसे अमीर प्रत्याशी रमेश शर्मा थे, उनकी कुल संपत्ति 928 करोड़ से अधिक थी। वे बिक्रम से निर्दलीय चुनाव लड़े थे। दूसरे नंबर पर डॉ. कुमार इंद्रदेव थे, उनकी 111 करोड़ से अधिक की संपत्ति थी। वे बाढ़ से निर्दलीय लड़े थे।

विधायकों में पूनम देवी यादव सबसे अमीर थी। संपत्ति 41.34 करोड़ रुपए थी। दूसरे नंबर पर भागलपुर से कांग्रेस विधायक अजीत शर्मा थे, उनकी कुल संपत्ति 40.57 करोड़ थी। अनंत कुमार सिंह तीसरे नंबर पर थे। संपत्ति 25.14 करोड़ थी।

वहीं इस बार 39 प्रतिशत प्रत्याशी युवा हैं, जिनकी उम्र 25 से 40 साल के बीच है। जबकि पढ़े लिखे उम्मीदवारों की बात करें तो 50% उम्मीदवार स्नातक या उससे अधिक की शिक्षा लिए हुए हैं।

दूसरे चरण में कांग्रेस के कृपानाथ पाठक थे, सबसे उम्रदराज, तीसरे चरण में राजद के रमई राम सर्वाधिक उम्र वाले प्रत्याशी हैं।

इस बार बिहार विधानसभा चुनाव लड़ रहे 3738 प्रत्याशियों में से 35% दागी हैं, दागी प्रत्याशियों में अधिकतर पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं।पिछले चुनाव में 30 प्रतिशत दागी उम्मीदवार मैदान में थे।

ताजा समाचार

  India Inside News


National Report



Image Gallery
Budget Advertisementt