वर्ष 2020 का आखिरी चंद्र ग्रहण : 30 नवंबर दिन सोमवार



--डॉ• इन्द्र बली मिश्रा,
काशी हिंदू विश्वविद्यालय,
वाराणसी-उत्तर प्रदेश, इंडिया इनसाइड न्यूज़।

इस वर्ष का आखिरी चंद्र ग्रहण 30 नवंबर दिन सोमवार को लगने वाला है। यह कार्तिक मास की पूर्णिमा तिथि को लगेगा। हालांकि, यह उपच्छाया मात्र है। इससे लोगों की राशियों पर ज्यादा कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। जो थोड़ा-बहुत असर पड़ेगा वो ग्रहण के दौरान निकलने वाली प्रदूषित किरणों का भी विपरीत प्रभाव होगा जो कि मानव जीवन पर होता है। मुख्यत: इसका ज्यादा असर गर्भवती महिलाओं और बच्चों पर देखा जाता है। चंद्रमा मन का कारक है। ऐसे में इस चंद्र ग्रहण का असर सीधे व्यक्ति के मन पर पड़ेगा।

■ चंद्र ग्रहण का समय

जैसा कि हमने आपको बताया है कि 30 नवंबर को पड़ने वाला चन्द्रग्रहण एक उपच्छाया चंद्र ग्रहण मात्र है। इसका कोई सूतक काल नहीं होगा। ऐसा कहा जाता है कि अगर ग्रहण में सूतक काल नहीं है तो वह ग्रहण प्रभावशाली नहीं होता है। समय की बात करें तो ग्रहण का समय दोपहर 01 बजकर 04 मिनट पर शुरु होगा। इस समय एक छाया से पहला स्पर्श होगा। यह दोपहर 03 बजकर 13 मिनट पर परमग्रास चंद्रग्रहण होगा। अंतिम स्पर्ष शाम 05 बजकर 22 मिनट पर उपच्छाया से होगा। ऐसा कहा जाता कि चंद्र ग्रहण के समय भगवान की पूजा की जानी चाहिए। साथ ही ओम् श्रीकृष्णाय नमः का जाप भी किया जाना चाहिए।

ताजा समाचार

  India Inside News


National Report



Image Gallery
Budget Advertisementt