रक्षा मंत्री ने गोलाबारूद दुर्घटनाओं को रोकने की पद्धति विकसित करने के लिए कहा



नई दिल्ली, 11 जुलाई 2019, इंडिया इनसाइड न्यूज़।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गोलाबारूद दुर्घटनाओं को रोकने और इनके प्रभावों को कम से कम करने की पद्धति विकसित करने के लिए विशेषज्ञों के कार्यबल की सिफारिशों की समीक्षा करने हेतु मंगलवार 09 जुलाई को आयोजित बैठक की अध्यक्षता की। रक्षा मंत्री द्वारा दिये गए निर्देश के अनुसार रक्षा अनुसंधान और विकास विभाग के सचिव और डीआरडीओ के चेयरमैन डॉ• जी सतीश रेड्डी ने सेना के पूर्व उपप्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फिलिप कम्पोज के नेतृत्व में सेवाओं, ओएफबी, डीजीक्यूए, डीआरडीओ के सदस्यों को शामिल करके एक कार्य बल का गठन किया।

रक्षा मंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि सैनिकों और आम लोगों की सुरक्षा बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने वैज्ञानिक रूप से डिजाइन किये गए अनेक गोला बारूद भंडार गृहों के निर्माण के लिए डीआरडीओ के प्रयासों की सराहना की। इन भंडार गृहों ने दुर्घटना होने के बावजूद जीवन हानि को रोका है। कार्य बल के चेयरमैन लेफ्टिनेंट जनरल फिलिप कम्पोज ने गोला बारूद दुर्घटनाओं के कारणों और रोकथाम तथा इन्हें कम करने के उपायों के बारे में जानकारी दी। कार्य बल की सिफारिशों की प्रंशसा करते हुए उन्होंने इन सिफारिशों को तेजी से लागू करने के निर्देश दिए।





Image Gallery
Budget Advertisementt