प्रधानमंत्री व गृहमंत्री ने पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली के निधन पर शोक व्यक्त किया



नई दिल्ली,
इंडिया इनसाइड न्यूज़।

■ प्रधानमंत्री ने अरुण जेटली के निधन पर दुख व्यक्त किया

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूर्व वित्त मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता अरुण जेटली के निधन पर दुख व्यक्त किया है।

अपने शोक संदेश में प्रधानमंत्री ने कहा, “अरुण जेटली जी असाधारण राजनीतिज्ञ, बुद्धिजीवी और कानून के जानकार थे। वह स्पष्टवादी नेता थे जिन्होंने भारत को मजबूत बनाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया। उनका जाना बेहद दुखद है। मैंने उनकी पत्नी संगीता जी और पुत्र रोहन से बात की है, और अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं। ओम शान्ति।

जीवन से भरपूर, हाजिरजवाब, विनोदी स्वभाव के और प्रतिभावान, अरुण जेटली जी को समाज के हर वर्ग के लोग चाहते थे। वह बहुमुखी प्रतिभा के धनी, भारत के संविधान, इतिहास, शासकीय नीति, शासन और प्रशासन के बारे में गहरी जानकारी रखते थे।

अपने लंबे राजनीतिक जीवन के दौरान, अरुण जेटली जी ने अनेक मंत्रालयों में जिम्मेदारियां संभाली, जिससे वह भारत के आर्थिक विकास, हमारी रक्षा क्षमताओं को मजबूत बनाने, लोगों के अनुकूल कानून बनाने और अन्य देशों के साथ व्यापार बढ़ाने की दिशा में योगदान देने में सक्षम हुए।

भाजपा और अरुण जेटली जी का अटूट बंधन था। जोशीले छात्रनेता के रूप में, आपातकाल के दौरान वह लोकतंत्र की रक्षा में अग्रणी रहे। वह हमारी पार्टी के चहेते थे, जो पार्टी के कार्यक्रमों और विचारधारा की समाज में विस्तृत पहुंच बना सकते थे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि अरुण जेटली के निधन से मैंने एक बहुमूल्य मित्र खो दिया है मुझे उन्हें कई दशकों से जानने का गौरव प्राप्त था। मुद्दों पर उनकी अंतरदृष्टि और उनकी बारीक समझ की तुलना नहीं की जा सकती। उन्होंने सम्मानित जीवन जिया, वह हमारे साथ अनेक अच्छी स्मृतियां छोड़ गए हैं। उनकी कमी हमेशा खलेगी।”

■ केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली के निधन पर शोक व्यक्त किया

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पूर्व कैबिनेट मंत्री अरूण जेटली के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा “मैं अरूण जेटली के असमय निधन से अत्यंत दुखी हूँ। उनका निधन मेरे लिए एक व्यक्तिगत क्षति है। मैंने न केवल संगठन का एक वरिष्ठ नेता बल्कि परिवार का एक अभिन्न सदस्य भी खो दिया है जिनका समर्थन और दिशा निर्देश मैं वर्षों से प्राप्त करता आ रहा था। आज उनके निधन ने देश की राजनीति और भारतीय जनता पार्टी में एक शून्य पैदा कर दिया है जिसे जल्द भरना संभव नहीं होगा।”

गृह मंत्री ने यह भी कहा कि “अपने अनूठे अनुभव और विलक्षण क्षमता के साथ, अरूण जी ने पार्टी और सरकार में विभिन्न जिम्मेदारियों का निर्वहन किया। एक शानदार वक्ता और समर्पित कार्यकर्ता के रूप में उन्होंने देश के वित्त मंत्री, रक्षा मंत्री और राज्यसभा में विपक्ष के नेता जैसे महत्वपूर्ण पदों को सुशोभित किया।”

अमित शाह ने कहा कि “अरूण जी ने एनडीए सरकार के 2014-19 के कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री के गरीबों के कल्याण के विज़न को धरातल पर उतारने और भारत को विश्व की सबसे तेज गति से बढने वाली अर्थव्यवस्था बनाने के द्वारा देश के वित्त मंत्री के रूप में एक अमिट छाप छोड़ी है। वह लोकोन्मुखी व्यक्ति थे और हमेशा आम लोगों के कल्याण की बात सोचते थे। उनका प्रत्येक निर्णय - चाहे काले धन पर कार्रवाई करने के मामला हो या ‘जीएसटी- एक राष्ट्र, एक कर’ के स्वप्न को साकार करने का या नोटबंदी हो, इस गुण को प्रदर्शित करता है। देश हमेशा उन्हें उनके अत्यंत सरल और संवेदनशील व्यक्ति के रूप में याद रखेगा।”





Image Gallery
Budget Advertisementt