लैंडर विक्रम को सक्रिय करने में जुटा नासा



नई दिल्ली,
इंडिया इनसाइड न्यूज़।

भारत का चंद्रयान-2 मिशन अभी खत्म नहीं हुआ है। इसरो के वैज्ञानिकों ने लैंडर विक्रम को सक्रिय करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। अब इस अभियान में दुनिया का सबसे बड़ा स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन नासा भी जुट गया है। अंग्रेजी अखबार के मुताबिक लैंडर विक्रम को नासा भी मैसेज भेज रहा है। लेकिन अभी तक ये कम्युनिकेशन एकतरफा रहा है। यानी लैंडर विक्रम की तरफ से कोई जवाब नहीं मिल रहा है।

नासा की जेट प्रॉपलशन लैबोरेट्री ने लैंडर विक्रम से संपर्क साधने के लिए रेडियो फ्रीक्वेंसी भेजी है। नासा ये काम डीप स्पेस नेटवर्क के जरिए कर रहा है। अमेरिका के एक एस्ट्रॉनॉट स्कॉट टिले ने भी इस बात की पुष्टि की है कि नासा ने कैलिफोर्निया स्थित डीएसएन स्टेशन से लैंडर विक्रम को रेडियो फ्रीक्वेंसी भेजी हैं। उन्होंने सिग्नल को रिकॉर्ड कर ट्वीटर पर भी साझा किया है।

पिछले दिनों भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान केंद्र (इसरो) के चंद्रयान-2 मिशन की नासा ने तारीफ की थी। नासा ने अपने ट्वीट में लिखा था ''अंतरिक्ष में शोध करना मुश्किल काम है। हम चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर इसरो के चंद्रयान-2 मिशन को उतारने के प्रयास की सराहना करते हैं।"

ताजा समाचार

  India Inside News


National Report



Image Gallery
Budget Advertisementt