मरने से पहले 10 लोगों को कोरोना पॉजिटिव कर गया सैफ



--अभिजीत पाण्डेय,
पटना-बिहार, इंडिया इनसाइड न्यूज़।

कतर से लौटे मुंगेर के जिस युवक की एम्स पटना में गत 22 मार्च को मौत हुई थी, उसके संपर्क में आने से अब तक 10 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इसमें उसकी पत्नी, भतीजा और साली के अलावा मुंगेर स्थित नेशनल हॉस्पिटल के चार और पटना के खेमनीचक स्थित शरणम हॉस्पिटल के तीन कर्मचारी शामिल हैं।

अब स्वास्थ्य विभाग इस पड़ताल में लगा है कि इन दस लोगों के संपर्क में कितने लोग आए हैं। हालांकि, अभी तक उनके संपर्क में आए जितने लोगों की जांच कराई गई है सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है। रविवार को संपतचक निवासी खेमनीचक स्थित शरणम हॉस्पिटल की महिला कर्मी की बहन, मां व दो भाइयों का नमूना लिया गया। अन्य स्वजनों के सैंपल सोमवार को लिए जाएंगे।

अभी तक जिन 15 लोगों में कोरोना वायरस की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, वे लोग इस बीच अपने संपर्क में आए लोगों की सही जानकारी नहीं दे रहे हैं। इससे संपर्क में आए लोगों की शिनाख्त में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को खासी परेशानी हो रही है। पटना सिटी के संक्रमित युवक के संपर्क में आए छह अन्य लोगों की शिनाख्त करने में स्वास्थ्य विभाग को पांच दिन से अधिक लग गए, जबकि आठ स्वजनों के नमूने उसी दिन ले लिए गए थे।

ताजा समाचार

  India Inside News


National Report




Image Gallery
Budget Advertisementt