कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन



नई दिल्ली,
इंडिया इनसाइड न्यूज़।

(पिछले 24 घंटे में कोविड-19 से संबंधित जारी प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल है)

● कोविड-19 के 64,426 मरीजों के स्वस्थ/डिस्चार्ज होने के साथ सुधार की दर बढ़कर 42.4 प्रतिशत के स्तर पर पहुंच गई है।

● कोविड-19 के पुष्ट मामलों की संख्या बढ़कर 1,51,767 हो गई।

● मंगलवार को कोविड-19 के लिए 1,16,041 नमूनों की जांच की गई।

● लॉकडाउन से बीमारी के प्रसार की गति में कमी सहित कई लाभ हुए हैं।

● आरोग्यसेतु ऐप का एंड्रॉयड वर्जन अब ओपन सोर्स हो गया है।

■ स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कोविड-19 पर प्राप्त अपडेट

कोविड-19 से ठीक होने की दर सुधरकर 42.4 प्रतिशत हुई; मंगलवार को 1,16,041 नमूनों की जांच की गई

लॉकडाउन से कई लाभ हुए हैं। इससे मुख्य रूप से संक्रमण के फैलाव की गति को नियंत्रित करने में मदद मिली है। इसी के साथ लॉकडाउन अवधि के दौरान स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए विशेष बुनियादी ढांचे के विकास; मानव संसाधन क्षमता विकास; जांच क्षमता में वृद्धि; आपूर्ति, उपकरण और ऑक्सीजन में वृद्धि; आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करना, मानक तय करना उनको प्रचारित करना तथा उनका पालन करना; नैदानिक तरीकों और दवाओं का परीक्षण तथा टीकों के लिए अनुसंधान विकास का काम हुआ है। इसके साथ ही घर-घर जाकर संपर्क और आरोग्य सेतु जैसे उपकरणों के इस्तेमाल के जरिए निगरानी तंत्र को मजबूत बनाया जाना इसका सफल तकनीकी पक्ष रहा है।

देश में 435 सरकारी प्रयोगशालाओं और 189 निजी प्रयोगशालाओं (कुल 624 प्रयोगशालाओं) के माध्यम से जांच क्षमता भी बढ़ी है। कुल मिलाकर कोविड के लिए अब तक 32,42,160 नमूनों की जांच की जा चुकी है। अकेले मंगलवार 26 मई 2020 को 1,16,041 नमूनों की जांच की गई। देश में अब तक कोराना संक्रमण के कुल 1,51,767 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 64,426 लोग ठीक हुए हैं और बीमारी से ठीक होने की दर सुधरकर 42.4 प्रतिशत हो गई है। देश में कोविड से होने वाली मृत्यु दर 2.86 प्रतिशत है, जबकि विश्व में इसका औसत 6.36 प्रतिशत है।

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने कोविड-19 महामारी के दौरान प्रजनन, मातृत्व, नवजात, बच्चे, किशोर स्वास्थ्य+पोषण सेवाओं के संबंध में एक दिशा-निर्देश जारी किया है।

■ आरोग्य सेतु ऐप अब ओपन सोर्स हो गया है

भारत ने 02 अप्रैल, 2020 को कोविड-19 महामारी के प्रसार को रोकने की कोशिशों में वृद्धि करते हुए आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप लॉन्च किया जिसका उद्देश्य ब्लूटूथ आधारित संक्रमित लोगों के संपर्क में आये लोगों की पहचान करना, संभावित हॉटस्पॉट्स की मैपिंग और कोविड-19 के बारे में प्रासंगिक जानकारी के प्रसार में सक्षम बनाना है। 26 मई तक ऐप के 114 मिलियन से अधिक उपयोगकर्ता हैं जो कि दुनिया में किसी भी अन्य कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग ऐप से अधिक है। यह ऐप 12 भाषाओं और एंड्रॉयड, आईओएस और केएआईओएस प्लेटफॉर्मों पर उपलब्ध है। आरोग्यसेतु के मुख्य स्तंभ पारदर्शिता, गोपनीयता और सुरक्षा हैं। भारत की ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर नीति की तर्ज पर आरोग्य सेतु के सोर्स कोड को अब ओपन सोर्स बना दिया गया है। इस एप्लिकेशन का एंड्रायड के लिए सोर्स कोड समीक्षा और सहयोग के लिए उपलब्ध है। इस एप्लिकेशन के आईओएस वर्जन को अगले दो सप्ताह में ओपन सोर्स के रूप में जारी किया जाएगा और सर्वर कोड बाद में जारी किया जाएगा।

■ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कतर के अमीर शेख तमीम बिन हमद अल-थानी के बीच टेलीफोन पर बातचीत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कतर के अमीर शेख तमीम बिन हमद अल-थानी के साथ टेलीफोन पर बातचीत की और कतर की स्नेहशील जनता को ईद-उल-फित्र की मुबारकबाद दी। प्रधानमंत्री ने कोविड-19 महामारी के दौरान कतर में भारतीय नागरिकों के कल्याण को सुनिश्चित करने के लिए अमीर द्वारा ली गई व्यक्तिगत दिलचस्पी के लिए तहे दिल से उनकी सराहना की। बदले में अमीर ने कतर में भारतीय समुदाय के योगदान, विशेष रूप से भारतीय स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा निभाई जा रही भूमिका की सराहना की।

■ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी के बीच टेलीफोन पर बातचीत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी के साथ टेलीफोन पर बातचीत में राष्ट्रपति और मिस्र की जनता को ईद-उल-फित्र की बधाई दी। प्रधानमंत्री ने कोविड-19 संकट के दौरान मिस्र में भारतीय नागरिकों की सुरक्षा और कल्याण के लिए मिस्र के अधिकारियों द्वारा प्रदान किए गए समर्थन के लिए प्रशंसा की। इस वर्ष की अपनी पूर्व नियोजित मिस्र यात्रा का जिक्र करते हुए, जिसे कोविड-19 महामारी के कारण स्थगित करना पड़ा, प्रधानमंत्री ने परिस्थितियों के सामान्य होने पर राष्ट्रपति सिसी से मिलने की इच्छा व्यक्त की।

■ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और आस्ट्रिया गणराज्य के राष्ट्रपति डॉ• एलेक्जेंडर वान देर बैलन के बीच टेलीफोन पर बातचीत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऑस्ट्रिया गणराज्य के राष्ट्रपति डॉ• एलेक्जेंडर वान देर बैलन के साथ टेलीफोन पर बातचीत की। दोनों नेताओं ने कोविड-19 महामारी के स्वास्थ्य और अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले प्रतिकूल प्रभावों के प्रबंधन के लिए अपने देशों में किए गए उपायों पर विचारों का आदान-प्रदान किया। उन्होंने वर्तमान चुनौतियों से निपटने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के महत्व पर सहमति व्यक्त की। दोनों नेताओं ने कोविड के बाद की दुनिया में भारत-ऑस्ट्रिया संबंधों को और मजबूत करने व विविधतापूर्ण बनाने की अपनी साझा इच्छा को दोहराया। प्रधानमंत्री ने बुनियादी ढांचे, प्रौद्योगिकी, अनुसंधान और नवाचार, एसएमई आदि जैसे क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के अवसरों पर प्रकाश डाला।

■ सरकार देश के पूर्वोत्तर राज्यों के छात्रों के लिए शिक्षण संस्थानों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और बेहतर अवसंरचना उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है- मानव संसाधन विकास मंत्री

सरकार ने यांगयांग में 986.47 करोड़ रुपये की लागत से सिक्किम विश्वविद्यालय (एक केन्द्रीय विश्वविद्यालय) का स्थायी परिसर बनाने की अनुमति दी है। सिक्किम सरकार ने इसके लिए 15 करोड़ रुपये की लागत से 300 एकड़ भूमि आवंटित की है, जिसमें से 265.94 एकड़ जमीन पहले ही विश्वविद्यालय को सौंप दी गई है। केन्द्रीय मंत्री ने यह भी बताया कि सरकार ने पहले ही अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम, मेघालय, नगालैंड, दिल्ली और पुडुचेरी में 6 एनआईटी बनाए जाने के लिए 4371.90 करोड़ रुपए के संशोधित लागत अनुमानों को मंजूरी दे दी है। ये एनआईटी 31 मार्च, 2022 तक अपने स्थायी परिसरों से पूरी तरह काम करना शुरू कर देंगे।

■ केंद्रीय मंत्री डॉ• जितेंद्र सिंह ने जम्मू-कश्मीर में कोविड-19 की मौजूदा स्थिति की समीक्षा की

केंद्रीय मंत्री डॉ• जितेंद्र सिंह ने बुधवार 27 मई 2020 को केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में बड़ी संख्या में लौट रहे लोगों और कोविड-19 मामलों में बढ़ोतरी के संदर्भ में मौजूदा स्थिति की समीक्षा की।

■ कोविड-19 से निपटने के लिए सीआईपीईटी स्वास्थ्य देखभाल के क्षेत्रों में अनुसंधान एवं विकास पहल शुरू करेगा; डब्ल्यूएचओ/आईएसओ के दिशा-निर्देशों के अनुसार पीपीई और अन्य जरूरी उत्पादों का विनिर्माण और प्रमाणन करेगा

रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय के तहत एक प्रमुख राष्ट्रीय संस्थान केंद्रीय प्लास्टिक इंजीनियरिंग एवं प्रौद्योगिकी संस्थान (सीआईपीईटी) कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए स्वास्थ्य देखभाल क्षेत्र में अनुसंधान एवं विकास (आरएंडडी) पहल करेगा और डब्ल्यूएचओ/ आईएसओ के दिशा-निर्देशों के अनुसार पीपीई और अन्य जरूरी उत्पादों का विनिर्माण और प्रमाणन करेगा। सीआईपीईटी के मुरथल, जयपुर, मदुरै और लखनऊ ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए 'फेस शील्ड' को विकसित किया है।

■ पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन कोविड-19 के मरीजों के इलाज में लगे डॉक्टरों और अन्य चिकित्सा कर्मचारियों को लंच प्रदान करेगा

कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए एक और कदम बढ़ाते हुए, बिजली मंत्रालय के अंतर्गत एक केन्द्रीय पीएसयू पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (पीएफसी) ने एशिया की सबसे बड़ी खाद्य कंपनियों में से एक, ताजसैट्स के साथ करार किया है, ताकि अग्रिम पंक्ति के कोविड योद्धाओं को स्वच्छ, और पौष्टिक भोजन प्रदान किया जा सके। इस प्रयास के तहत, पीएफसी नई दिल्ली स्थित डॉ• राम मनोहर लोहिया अस्पताल में कोविड-19 रोगियों के उपचार में लगे डॉक्टरों और अन्य स्वास्थ्य चिकित्सा कर्मचारियों को पैक किए हुए लंच बॉक्स प्रदान करेगा।

■ एनसीएसटीसी ने हिंदी में लोकप्रिय कोविद कथा को जारी किया

राष्ट्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संचार परिषद (एनसीएसटीसी), विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) ने कोविद-19 महामारी के संदर्भ में जन जागरूकता फैलाने के लिए सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाली लोकप्रिय मल्टीमीडिया गाइड का हिंदी संस्करण जारी किया है। इसका अंग्रेजी संस्करण पहले ही इस महीने की शुरुआत में जारी किया जा चुका है। विशेष रूप से हिंदी पट्टी के लोगों की कोविद कथा के हिंदी संस्करण की मांग को पूरा करने के उद्देश्य से, कोविद कथा के हिंदी संस्करण को अतिरिक्त और संशोधित जानकारी के साथ जारी किया गया है, जिससे लोगों को इसका लाभ मिल सकें।

■ पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिलीं जानकारियां

• चंडीगढ़ : संघ शासित क्षेत्र के प्रशासक ने म्युनिसिपल, पुलिस और स्वास्थ्य अधिकारियों सहित सभी सरकारी कर्मचारियों को नियंत्रण (कॉन्टेनमेंट) क्षेत्रों में अपनी जिम्मेदारी निभाते समय सभी उपयुक्त सुरक्षात्मक उपकरणों के उपयोग किए जाने के निर्देश दिए हैं। प्रशासक ने उप आयुक्त को यह सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए हैं कि नियंत्रण क्षेत्रों में पर्याप्त मात्रा में राशन का वितरण किया जाए। निजी दानदाताओं और एनजीओ को इस कार्य में अंशदान के लिए जोड़ा जाना चाहिए। प्रशासक ने आयुक्त, नगर निगम को नियंत्रण क्षेत्रों की नियमित रूप से साफ-सफाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं और साथ ही कचरा विशेषकर चिकित्सा क्षेत्र से मिले कचरे का उचित निस्तारण करने के लिए भी कहा है। बुधवार को एक गर्भवती महिला अपने पति और एक बच्चे के साथ उत्तर प्रदेश जाने को एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन पकड़ने के लिए होल्डिंग सेंटर पहुंची। स्वास्थ्य जांच के बाद उसे ट्रेन पकड़ने के लिए रेलवे स्टेशन भेज दिया गया। वहीं उसे डिलीवरी से संबंधित पीड़ा होने लगी। तत्काल उसे जीएमसीएच-32 भेजने के लिए एक एम्बुलैंस की व्यवस्था की गई। भारी पीड़ा को देखते हुए उसे नजदीक के मनीमाजरा स्थित एक अस्पताल को भेज दिया गया, जहां उसने एक बालक को जन्म दिया। मां और बच्चा दोनों ही स्वस्थ हैं।

• पंजाब : पंजाब सरकार ने हवाई, रेल और सड़क मार्ग से आ रहे सभी अंतरराष्ट्रीय और घरेलू यात्रियों के लिए समेकित और समग्र दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। राज्य सरकार के अनुसार, वायरस के प्रसार को रोकने के लिए ज्यादा से ज्यादा परीक्षण, निगरानी और आइसोलेशन (एकांतवास) ही एक मात्र उपाय है। सामान्य निगरानी के उद्देश्य से सरकार औचक आधार पर राज्य में आने वाले लोगों के ज्यादा परीक्षण कर सकती है, उदाहरण के लिए, अमृतसर और मोहाली हवाई अड्डों पर औचक आधार पर कुछ घरेलू यात्रियों के परीक्षण किए गए हैं।

• हरियाणा : मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन की अवधि के दौरान शर्तों के पालन में लोगों के धैर्य और समर्थन तथा राज्य सरकार द्वारा की गई कुशल व्यवस्था से महामारी से निपटने में सहायता मिली है।

• हिमाचल प्रदेश : कोविड-19 महामारी के मद्देनजर राज्य सरकार ने 24 मार्च, 2020 से पूरे राज्य में कर्फ्यू लगाने का फैसला किया था। राज्य मंत्रिमंडल ने अपनी 23 मई, 2020 को हुई एक बैठक में जिलाधिकारियों को आवश्यकता पड़ने पर धारा 144 के अंतर्गत कर्फ्यू को 30 जून, 2020 तक बढ़ाने का अधिकार देने का फैसला किया था।

• केरल : राज्य सरकार कई हिस्सों में व्यापक स्तर पर हुए विरोध प्रदर्शन को देखते हुए शुल्क सहित संस्थागत क्वारंटाइन में भेजने के फैसले में बदलाव पर विचार कर रही है। राज्य मंत्रिमंडल ने इस बात पर विचार किया कि नियमों में छूट के बाद लोग व्यापक स्तर पर लॉकडाउन की शर्तों का उल्लंघन कर रहे हैं। राज्य में मामलों की संख्या तेजी से बढ़ी है और वर्तमान में कुल मामले 415 के स्तर पर पहुंच गए हैं, जिनमें से पिछले चार दिन में ही 231 मामले सामने आए हैं। इसके अलावा मंगलवार को ही 67 पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए, जो किसी एक दिन में सबसे ज्यादा आंकड़ा है। इनमें विदेश से आए 133 लोग और दूसरे राज्यों से आए 178 लोग शामिल हैं। अभी तक 1.35 लाख पंजीकृत लोगों में से सिर्फ 11,189 लोग ही विदेश से वापस लौटे हैं।

• तमिलनाडु : राज्य सरकार ने 15,128 करोड़ रुपये के निवेश वाले 17 निवेश समझौतों (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं, जिनसे 47,150 रोजगार पैदा होने की संभावना है। उच्चतम न्यायालय ने तमिलनाडु सरकार से चेन्नई के बिलरोथ हॉस्पिटल्स लिमिटेड की ऊपर की चार मंजिलों को कोविड-19 मरीजों के उपचार में उपयोग करने के लिए कहा है; मद्रास उच्च न्यायालय के स्वीकृत निर्माण योजना के कथित उल्लंघन पर अस्पताल के आठ मंजिला ब्लॉक के ऊपर की पांच मंजिलों को ढहाए जाने के आदेश पर शीर्ष अदालत ने रोक लगा दी है। तिरुचि केन्द्रीय कारागार में एक कैदी जांच में कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया है; उस कैदी के ब्लॉक में ही रहने वाले 28 अन्य कैदियों को अधिकारियों ने आइसोलेशन के लिए भेज दिया है। मंगलवार तक कुल मामले : 17,728, सक्रिय मामले : 8,256, मृत्यु : 127, डिस्चार्ज : 9342। चेन्नई में सक्रिय मामलों की संख्या 6,056 के स्तर पर है।

• कर्नाटक : बुधवार दोपहर 12 बजे तक कोविड के 122 नए मामले सामने आए, 14 लोग डिस्चार्ज कर दिए गए और एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई। बुधवार सामने आए नए मामलों में कलबुर्गी में 28, यादागिरि में 16, हासन में 15, बीदर में 12, दक्षिण कन्नड़ में 11, उडुपी में 9, उत्तर कन्नड़ में 6, रायचूर में 5, बेलागावी में 4, चिक्कमंगलूर में 3, विजयपुरा में 2 और मांड्या, तुमकुल तथा बेल्लारी में 1-1 मामले दर्ज किए गए। राज्य में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 2,405 तक पहुंच गई। सक्रिय मामले : 1,596, स्वस्थ हुए : 762, मृत्यु : 45।

• आंध्र प्रदेश : उच्च न्यायालय विपक्षी नेता चंद्रबाबू नायडू द्वारा लॉकडाउन के नियमों के उल्लंघन के खिलाफ दायर याचिका पर जांच कराएगा। राज्य सरकार ने नियंत्रण क्षेत्रों के अलावा दूसरे क्षेत्रों में फूड स्टॉल, टेक्सटाइल, ज्वैलरी स्टोर फिर से खोलने की अनुमति दे दी है। 9,664 नमूनों की जांच के बाद पिछले 24 घंटों में 68 नए मामले सामने आए, एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई और 10 लोग डिस्चार्ज कर दिए गए। कुल मामले : 2,787, सक्रिय मामले : 816, स्वस्थ हुए : 1913, मृत्यु : 58। दूसरे राज्यों से आए लोगों में से 219 पॉजिटिव मामले पाए गए, जिनमें 75 सक्रिय मामले शामिल हैं। 111 पॉजिटिव मामले विदेश से आए लोगों से संबंधित हैं।

• तेलंगाना : टिड्डियों के हमले को देखते हुए महाराष्ट्र से लगे तेलंगाना के सीमावर्ती जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। सामूहीकरण के चलते हैदराबाद और रंगारेड्डी में कोविड के मामले तेजी से बढ़े हैं। 27 मई को तेलंगाना में कुल पॉजिटिव मामले 1,991 के स्तर पर हैं। मंगलवार तक 172 प्रवासी जांच में पॉजिटिव पाए गए। विदेश से लौटने वाले 42 विदेशी लोग जांच में कोविड-19 पॉजिटिव पाए जा चुके हैं।

• महाराष्ट्र : महाराष्ट्र में 2,091 नए मामले दर्ज किए गए, जिससे राज्य में कोविड-19 पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 54,758 के स्तर पर पहुंच गई। हालांकि सक्रिय मामलों की संख्या 36,004 है। हॉटस्पॉट मुंबई में 1,002 मामले दर्ज किए गए, जिससे अकेले मुंबई में ही पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 32,791 हो गई। महाराष्ट्र में 72 जांच प्रयोगशालाएं परिचालन में हैं और 27 नई प्रयोगशालाएं जल्द ही चालू हो जाएंगी। इसके अलावा राज्य में कोविड-19 के मामले दोगुने होने में लगने वाला समय बढ़कर 14 दिन हो गया, जबकि मृत्यु दर घटकर 3.27 रह गई है।

• गुजरात : लगभग 19 जिलों में 361 नए मामले दर्ज किए गए, जिससे राज्य में कुल पॉजिटिव मामले बढ़कर 14,829 हो गए। वहीं वर्तमान में राज्य में कुल सक्रिय मामले 6,777 के स्तर पर हैं।

• राजस्थान : बुधवार को 144 नए मामले दर्ज किए गए, जिससे कोविड-19 के पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 7,680 हो गई। वहीं अभी तक 4,341 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। अभी तक राज्य में कुल 172 लोगों की मृत्यु भी हो चुकी है। जयपुर को आईसीएमआर की उन शहरों की सूची में जगह मिली है, जहां कोविड-19 सीरो-सर्वेक्षण किया जाएगा।

• मध्य प्रदेश : राज्य में 165 नए मामले दर्ज किए गए, जिससे कुल कोविड-19 पॉजिटिव लोगों का आंकड़ा बढ़कर 7,024 तक पहुंच गया जिनमें से 3,030 मामले अभी तक सक्रिय हैं। हॉटस्पॉट इंदौर में अभी तक सबसे ज्यादा 3,103 पॉजिटिव मामले दर्ज किए जा चुके हैं। लॉकडाउन की शर्तों को धीरे-धीरे लचीला बनाए जाने के क्रम में भोपाल में दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बुधवार से खुल गए। सरकार ने दुकानों को पूर्वाह्न 11 बजे से शाम 5 बजे तक खोलने की अनुमति दे दी है।

• छत्तीसगढ़ : राज्य में कोरोना के 50 नए पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए, जिससे छत्तीसगढ़ में कुल सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 271 हो गई। राज्य सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस के प्रसार पर रोकथाम के लिए 13 विकास खंडों का रेड जोन और 39 का ऑरेंज जोन के रूप में वर्गीकरण किया। इसके अलावा राज्य के 95 क्षेत्रों को पहले ही नियंत्रण क्षेत्रों के रूप में घोषित किया जा चुका है, जहां हाल में कोविड-19 के मामले सामने आए थे।

• अरुणाचल प्रदेश : नैफेड ने अरुणाचल प्रदेश को मई और जून महीने के लिए अभी तक 313.956 एमटी दालों की डिलीवरी की है।

• असम : राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सोनापुर के जिला अस्पताल ने अब कोविड-19 मरीजों के लिए 108 बिस्तरों वाले केन्द्र के रूप में काम करना शुरू कर दिया है। असम में कोविड-19 के 18 नए पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए। अभी तक कुल 704 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 635 सक्रिय मामले हैं, 62 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और 4 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट के माध्यम से यह जानकारी दी है।

• मणिपुर : राज्य सरकार ने कोविड-19 महामारी को देखते हुए वंचित तबकों को सहायता देने के उद्देश्य से इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना (आईजीएनओएपीएस), इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन योजना (आईजीएनडब्ल्यूपीएस) और इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विकलांगता पेंशन योजना (आईजीएनडीपीएस) के लाभार्थियों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत 500 रुपये की अनुग्रह राशि दी है।

• मिजोरम : मिजोरम बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन ने एचएस स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट परीक्षा और एचएसएलसी परीक्षा (कम्पार्टमेंटल) 2020 को 11 केन्द्रों पर 16 जून को कराना तय किया है।

• नागालैंड : सरकार ने फंसे नागरिकों को वापस लाने के लिए गोवा, आंध्र प्रदेश, बेंगलुरु, राजस्थान से विशेष ट्रेनों और पश्चिम बंगाल, उत्तराखंड, पंजाब, दमन और दीव तथा लखनऊ से विशेष बसों की व्यवस्था की है। कोविड-19 होर्टीकल्चर स्पेशल ड्राइव टीम ने ‘ग्रो मोर, प्रोड्यूस मोर, अर्न मोर’ (ज्यादा बढ़ो, ज्यादा पैदा करो, ज्यादा कमाओ) थीम के साथ लॉकडाउन के दौरान कृषि और उद्यानिकी गतिविधियों का आयोजन किया।

ताजा समाचार

  India Inside News


National Report



Image Gallery
Budget Advertisementt